Friday, July 23, 2010

मेरी रामायण का राम



मै एक नयी
रामायण का अंकन करूँगा
जो एक आदर्श
रामायण
होगी 

मेरा राम सूर्पनखा का
  नाक काटने के लिए 
  भाई लक्ष्मण को
    नहीं भेजेगा 

मेरा राम सीता के कहने पर
  स्वर्ण मृग को मारने 
  नहीं जायेगा

मेरा राम सुग्रीव से मित्रता
  करने  के लिए कपट से
  बाली का वध
 नहीं करेगा 

मेरा राम अशोक वाटिका से
सीता को लाकर उसकी
उसकी अग्नि परीक्षा
नहीं लेगा

मेरा राम रजक के कहने से
  आसन्न-प्रसवा  सीता को
 वन में छोड़ने नहीं
 भेजेगा 

मेरा राम चारो भाइयो के
 साथ सरयू में जाकर 
  समाधि नहीं
 लेगा

मेरी रामायण का राम एक
आदर्श मानवीय मूल्यों
 का धारक राम
होगा।



कोलकाता
२३ जुलाई,२०१०

10 comments:

  1. Fir to wah ji kitne din paayega? samaj use aadarsh nahin samany sa adna sa kone me pada insan manega. wah to media me nhi nahi aa paayega. Haan bhai sach kah raha hun. Hamarebhai sahab to abhi se bagal me khade ho hans rahen hain.

    ReplyDelete
  2. मंगलवार 27 जुलाई को आपकी रचना ... चर्चा मंच के साप्ताहिक काव्य मंच पर ली गयी है .कृपया वहाँ आ कर अपने सुझावों से अवगत कराएँ .... आभार

    http://charchamanch.blogspot.com/

    ReplyDelete
  3. आपकी यह रचना मेरे मन में उठाने वाले कई प्रश्नों को कह रही है ..

    ReplyDelete
    Replies
    1. ISE RACHANA NAHI KAHIYE BAHAN JI .YE TO MURKH KI DASTA HAI .

      Delete
  4. आपके राम आदर्श मानवीय मूल्यों के प्रतिमान होंगे ..निश्चित ही ...!

    ReplyDelete
    Replies
    1. TERI TARAH KE AADARSH PAIS KARENGE .TU APNE BAP KO FIR SE PAIDA KARKE DIKA .MURKH KAHI KA .RAM KI PARIBHASA JANTA HAI .

      Delete
  5. बहुत खूब .. इतिहास दुबारा लिखना ... राम को दुबारा चरितार्थ करना ...

    ReplyDelete
  6. TERI RAMAYAN TO TERI TARAH DHONG KO BADHAWA DEGI .TERE JAISE HI EK MURKH SWAMI NE RAM CHARIT MANS KI KUCHHA SALOK ME KSHED -KSHAD KI USAKO 8 LAKH DAND BHARANA PADA NAKH RAGADNA PADA SANTO KE AAGE .AB SANT SAMAJ SE BAHISKRIT HAI NAM HAI RAM VADRACHARY .

    ReplyDelete
  7. RAM TO FIR PAIDA NAHI HONGE TERE JAISE RAVAN HOTE RAHENGE JO RAM CHARITR PAR UNGALI UTHATE RAHENGE .AUR UNKA SARVNASH BHI RAVAN KI TARAH HOTA RAHEGA .EK LAKH PUTR SAWA LAKH NATI TA RAVAN GHAR KOI NAHI BACHA JALANE WALA DIYA BATI .

    ReplyDelete