Sunday, June 9, 2013

सम्बन्ध विच्छेद

आज हमारे सम्बन्ध विच्छेद के
दस्तावेज पर न्यायाधीश ने
हस्ताक्षर कर दिया।

कर्मकांडी वकीलों ने भी
हमारे रिश्ते की मृत्यु पर गरुड़
पुराण का पाठ पढ़ दिया।

मैंने भी तुम्हारे प्यार का
सारा कूड़ा कचरा दिल से खुरच
कर बाहर फैंक दिया।

और सुनो ! रिश्ते की कब्र पर
कफ़न गिरा एक दुखद अतित
का अन्त भी कर दिया।

तुम्हारे जितने भी पत्र और तस्वीरे थी
उनको भी आज गंगा मे बहा कर
तर्पण कर दिया।

लगे हाथ गंगा किनारे तुम्हारी यादो
और अहसासों का पिंडदान
भी कर दिया।

दफ़न कर दिया जिन्दगी
का हर वह लहमा जो तुम्हारे
साथ बिताया।

एक लम्बे समय बाद
दिल ने आज राहत ओ सूकून
भरा दिन बिताया।



No comments:

Post a Comment