Friday, January 15, 2016

सद विचार

धन-दौलत का घमंड ठीक नहीं
आज है कल का कोई ठीक नहीं
दो-चार दिन की इस जिंदगी में
किसीको दुःख पहुँचना ठीक नहीं।

जीवन में अपने कर्मों को सुधारो
जीवन में अपने भावों को सुधारो
केवल तन सजाने से कुछ नहीं होगा
जीवन में अपने चिंतन को सुधारो।

जो समय का सम्मान किया करते हैं
जीवन का आनंद वो ही लिया करते हैं
जीवन में सफलता उन्हीं को मिलती है
जो समय की कीमत पहचाना करते है।

संतोषी सदा सुखी रहा करता है
सदा सुख की नींद सोया करता है
उल्लास आनद भी तभी मिलता है
जब मन में संतोष रहा करता है।


1 comment:

  1. आपकी लिखी रचना, "पांच लिंकों का आनन्द में" सोमवार 18 जनवरी 2016 को लिंक की जाएगी............... http://halchalwith5links.blogspot.in पर आप भी आइएगा ....धन्यवाद!

    ReplyDelete