Monday, June 8, 2015

आयशा का धमाल

राजा से ल्याई हाथी घोड़े
रानी ने चूमा मेरा गाल
हीरों का मुकुट पहनाया
मैंने रखा उसे संभाल।

चन्दा से ल्याई दूध मलाई
परियों से ल्याई प्यारी चाल
इंद्र धनुष का हार बनाया
मैनें रखा उसे संभाल।

सागर से चुन मोती ल्याई
मछली से मैंने पूछा हाल
सबका प्यार मुझे मिला
मैंने रखा उसे संभाल।


No comments:

Post a Comment