Wednesday, July 1, 2015

जीवन में हमसफ़र चाहिए

 बिन हमदम के जीवन सूना 
 मुस्किल है बिन साथी जीना 
 जैसे मछली को नीर चाहिए 
  जीवन में हमसफ़र चाहिए। 

                                   दोनों का है सम्बन्ध सलोना    
                                    एक दूजे  बिन जीवन सूना  
जैसे मोती को चमक चाहिए                                                        
     जीवन में हमसफ़र चाहिए।                                                         

 दुःख-सुख दोनों साथ निभाते    
  हँस-हँस कर के जीवन जीते   
     जैसे सागर को तट चाहिए   
    जीवन में हमसफ़र चाहिए।  
           
संग सफर से जीवन महके                                                     
         पतझड़ में भी सावन झलके                                                               
         जैसे रजनी को चाँद चाहिए                                                              
          जीवन में हमसफ़र चाहिए।                                                             
 




No comments:

Post a Comment